शनिवार, 12 अक्तूबर 2013

नींद: कुछ रोचक और आश्चर्यजनक तथ्य

रात में टाइम से बिस्तर पर भले ही लेट जाएं पर करवटें बदलते-बदलते सारी रात बीत जाती है पर नींद है कि आती ही नहीं, शायरों ने भले ही इसे प्यार के लक्षण बताएं हों लेकिन वास्तविकता में यह आपकी गलत जीवनशैली का ही परिणाम है। 

नींद न आना आज हर उम्र में लोगों के लिए ऐसी समस्या है जिससे सब परेशान भी हैं और इसका ठोस उपाय भी नहीं करते। ऐसे में आप अपने रुटीन पर कुछ गौर क्यों नहीं करते, हो सकता है आपकी कुछ गलत आदतें ही नींद की दुश्मन हों। पहचानें कुछ ऐसी आदतों को जो आपकी नींद उड़ाने की वजह हो सकती हैं।

देर रात तक टीवी देखना
सोने से पहले देर तक टीवी देखना भले ही आपके लिए मनोरंजन का सबसे आसान तरीका हो पर इससे आपकी नींद को बहुत नुकसान होता है, ऐसा मानना है जापान के ओसाका विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं का। इन्होंने अपने शोध के आधार पर यह माना है कि जो लोग सोने से पहले देर तक टीवी देखते हैं उन्हें अच्छी और गहरी नींद नहीं आती और आगे चलकर उन्हें अनिद्रा की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

लैपटॉप पर देर तक काम
ऑफिस में दिन भर कंप्यूटर के सामने बैठने के बाद भी घर जाकर कुछ लोग लैपटॉप खोल ही लेते हैं। लेकिन देर रात तक कंप्यूटर पर काम आंखों, नसों और दिमाग में तनाव पैदा करता है जिससे नींद न आने की दिक्कत हो सकती है। 

वीडियोगेम्स खेलना
सोने से पहले खाली समय में कंप्यूटर या मोबाइल पर गेम्स खेलने की आदत कई बार आपकी नींद की दुश्मन हो जाती है। वीडियो गेम्स खेलने के दौरान आपके शरीर में ऊर्जा का प्रवाह तेज होता है और आप हाइपरएक्टिव हो जाते हैं। इससे शरीर का तनाव बढ़ जाता है और नींद नहीं आती।

वर्कआउट
कुछ लोग समय की कमी के कारण सोने के पहले ही वर्कआउट करते हैं जो उनकी नींद के लिए ठीक नहीं। वर्कआउट करने से मेटॉबॉलिज्म तेज होता है और शरीर में ऊर्जा का संचार बढ़ जाता है। ऐसी स्थिति में आप घंटों काम तो कर सकते हैं पर चैन की नींद नहीं पा सकते।

कॉफी पीना
कई बार खाने के बाद या देर रात में कॉफी पीना भी हमारी नींद के लिए फायदेमंद नहीं होता। कॉफी में मोजूद कैफीन आपको छह घंटे से ‌अधिक समय तक जगाए रखता है। यानी अगर कॉफी पीने का शौक भी है तो सोने से छह घंटे पहले कॉफी पिएं न कि देर रात में। 

काम का तनाव
काम का अत्याधिक तनाव भी आपकी नींद छीन सकता है। न सिर्फ नींद छीन सकता है बल्कि आपके लिए कई बीमारियों की जड़ हो सकता है। इसलिए ऑफिस की टेंशन ऑफिस में ही छोड़कर आएं।

नींद के कुछ रोचक तथ्य के लिए चित्र  पर  क्लिक करे